CCC (Course on Computer Concept) | Word Processing

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड एक प्रकार का वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर है जिसका प्रयोग किसी डॉक्‍यूमेण्‍ट को बनाने तथा उसमें कुछ बदलाव करने के लिए किया जाता है।

इस सॉफ्टवेयर के प्रयोग से विभिन्‍न प्रकार के टैक्‍स्‍ट स्‍टाइल और चित्रों आदि को लगाकर एक आकर्षक डॉक्‍यूमेण्‍ट तैयार किया जाता है। वर्ष 1983 में MS-DOS आपरेटिंग सिस्‍टम के लिए प्रथम Word Processing Software तैयार किया गया था।
CCC (Course on Computer Concept) | Word Processing



वर्ड प्रोसेसिंग के बेसिक्‍स (Basics of Word Processing)


वर्ड प्रोसेसिंग की सहायत से टैक्‍स्‍ट एडिटिंग,ऑटो फॉर्मेटिंग, फॉर्मेटिंग टैक्‍स्‍ट, OLE, GUI इण्‍टफेस, भाषा एवं व्‍याकरण, ग्राफिक्‍स, मेल मर्ज, फाइलों को सुरक्षित रखना, ऑनलाइन हेल्‍प इत्‍यादि कार्य आसानी से किया जाता है।
Word Processing के मुख्‍य Tools निम्‍न प्रकार हैं -

टाइटल बार (Title Bar) : इसमें वर्तमान में खुले डॉक्‍यूमेण्‍ट का नाम होता है।

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस बटन (Microsoft Office Button) : यह विण्‍डो के सबसे ऊपरी बायें कोने में स्थित होता है, जिस पर क्लिक करने से एक मेन्‍यू प्रस्‍तुत होता है। इस मेन्‍यू से नई फाइल को बनाना, फाइल को सेव करना इत्‍यादि कार्य किये जाते हैं।

क्विक एक्‍सेस टूलबार (Quick Access Toolbar) : यह ऑफिस बटन के बराबर में दाईं ओर स्थित होता है, इसमें यूजर द्वारा अधिकांशत: प्रयुक्‍त की जाने वाली कमाण्‍ड्स होती है, जैसे सेव, अनडू, रीडू, प्रिंट प्रिव्‍यू आदि।

कण्‍ट्रोल बटन्‍स (Control Buttons) : कण्‍ट्रोल बटन्‍स तीन प्रकार के होते हैं -

(a) मिनीमाइज बटन (Minimize Button)
(b) मैक्‍सीमाइज बटन (Maximize Button)
(c)क्‍लोज बटन (Close Button)


रिबन (Ribbon) : रिबन का प्रयोग कमाण्‍ड्स देने में होता है, यह स्‍क्रीन के टॉप के पास (क्विक एक्‍सेस टूलबार के नीचे) स्थित होता है।

टैब्‍स (Tabs) : रिबन के ठीक ऊपर टैब्‍स होते हैं, किसी भी एक टैब को क्लिक करने पर उससे सम्‍बन्धित कमाण्‍ड्स ग्रुप्‍स रिबन में प्रस्‍तुत हो जाते हैं।

ग्रुप्‍स (Groups) : प्रत्‍येक टैब के अन्‍दर कुछ ग्रुप्‍स होते हैं जिनमें विभिन्‍न कमाण्‍ड्स होते हैं।

रूलर्स (Rulers) : ये दो प्रकार के होते हैं - क्षैतिज व ऊर्ध्‍वाधर व इनके प्रयोग से मार्जिन को सेट किया जाता है।

टैक्‍स एरिया (Text Area) : इसमे यूजर द्वारा टाइप किया गया या कहीं से लिया गया टैक्‍स्‍ट इत्‍यादि इस क्षेत्र में दिखाया जाता है।

जूम स्‍लाइडर (Zoom Slider) : इस स्‍लाइडर की सहायता से यूजर डॉक्‍यूमेण्‍ट के आकार को घटा या बढा सकता है।

व्‍यू बटन्‍स (View Buttons) : इन बटनों की सहायता से यूजर डॉक्‍यूमेण्‍ट के आकार को घटा या बढा सकता है।

(a) प्रिंट लेआउट यह डॉक्‍यूमेण्‍ट के पेपर प्रिण्‍ट के लेआउट को दर्शाता है।

(b) फुल स्‍क्रीन रीडिंग यह पेज को स्‍क्रीन पर इस प्रकार से दर्शाता है जिससे कि पूरे पेज को स्‍क्रीन पर आसानी से पढा जा सके।
(c) वेब लेआउट यह वेब ब्राउजर में पेज की दृश्‍यता को दिखाता है।
(d) आउटलाइन यह डॉक्‍यूमेण्‍ट पेज को आउटलाइन फार्म में दिखाता है।
(e) ड्राफ्ट यह पेज को आसान फॉर्मेट में दिखाता है।

स्‍क्राल बार्स (Scroll Bars) : इनका प्रयोग डॉक्‍यूमेण्‍ट को क्षैतिज तथा ऊर्ध्‍वाधर स्‍क्रॉल करने के लिए किया जाता है। ये प्राय: दो प्रकार के होते हैं -

(a) ऊर्ध्‍वाधर स्‍क्रॉल बार (Vertical Scroll Bar) इससे डॉक्‍यूमेण्‍ट के पेजों तथा तत्‍वों को ऊपर या नीचे करके देखा जा सकता है।
(b) क्षैतिज स्‍क्रॉल बार (Horizontal Scroll Bar) यदि डॉक्‍यूमेण्‍ट का आकार 100 प्रतिशत से ज्‍यादा हो तो इससे डॉक्‍यूमेण्‍ट के पेजों को दाईं या बाईं ओर करके देखा जा सकता है।

स्‍टेटस बार (Status Bar) : यह ऐक्टिव डॉक्‍यूमेण्‍ट के बारे में समस्‍त जानकारियों को दर्शाने के लिए प्रयोग होता है। यह टैक्‍स्‍ट एरिया, जैसे- पृष्‍ठ संख्‍या, लाइन व कॉलम संख्‍या के ठीक नीचे होता है।
Tabs of MS Word - एमएस वर्ड के टैब्‍स

होम (Home) : इस टैब में क्लिपबोर्ड, फॉण्‍ट, पैराग्राफ स्‍टाइल्‍स और एडिटिंग इत्‍यादि से सम्‍बन्धित सभी कार्य किये जाते हैं।

इन्‍सर्ट (Insert) : इस टैब से डॉक्‍यूमेण्‍ट में टेबल्‍स, हैडर्स एवं फुटर्स तथा सिम्‍बल इत्‍यादि को डाला जाता है।

पेज लेआउट (Page Layout) : इस टैब से डॉक्‍यूमेण्‍ट के पेज की लुक जैसे पेज सेटअप, पेज बैकग्राउण्‍ड व पैराग्राफ इत्‍यादि को सेट किया जाता है।

रेफरेंस (Reference) : इस टैब की सहायता से टेबल ऑफ कण्‍टेन्‍टस, फुटनोट, बिबलियोग्राफी, कैप्‍शन्‍स इन्‍डेक्‍स आदि को जोडा जाता है।

मेलिंग (Mailings) : इस टैब का प्रयोग प्राय: मेल को क्रिएट, मेल मर्ज आदि कार्यों के लिए किया जाता है।

रिव्‍यू (Review) : इस टैब का प्रयोग लैग्‍वेज, कमेंन्‍टस, ट्रैक चैंज आदि हेतु किया जाता है।

व्‍यू (View) : यह बटन डॉक्‍यूमेन्‍ट को डिसप्‍ले करने या उसमें व्‍यू बदलने से सम्‍बन्धित कार्य को करने के लिए प्रयुक्‍त किया होता है।

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस बटन की कमाण्‍ड्स (Commands of Office Button)

NEW : इस कमाण्‍ड का प्रयोग नये डॉक्‍यूमेण्‍ट को बनाने के लिए किया जाता है।

OPEN : इस कमाण्‍ड का प्रयोग कम्‍प्‍यूटर पर वर्ड सपोर्टेड फाइलों को खोलने के लिए किया जाता है।

SAVE : इस कमाण्‍ड का प्रयोग डॉक्‍यूमेण्‍ट को सेव करने के लिए होता है।

SAVE AS : इस कमाण्‍ड का प्रयोग वर्ड डॉक्‍यूमेण्‍ट को प्रत्‍येक बार अलग नाम से सेव करने के लिए प्रयुक्‍त किया जाता है।

PRINT : इस कमाण्‍ड का प्रयोग डॉक्‍यूमेण्‍ट को प्रिण्‍ट करने के लिए किया जाता है।

PREPARE : इस कमाण्‍ड के प्रयोग से डॉक्‍यूमेण्‍ट को ड्रिस्‍ट्रीव्‍यूटर के लिए तैयार किया जाता है।

SEND : इस कमाण्‍ड का प्रयोग डॉक्‍यूमेण्‍ट को ईमेल या इण्‍टरनेट फैक्‍स करने के लिए किया जाता है।

PUBLISH : इस कमाण्‍ड का प्रयोग डॉक्‍यूमेण्‍ट को ब्‍लॉग या डॉक्‍यूमेण्‍ट मैनेजमेण्‍ट सर्वर या डॉक्‍यूमेण्‍ट वर्डस्‍पेस पर पब्लिश करने के लिए किया जाता है।

CLOSE : इस कमाण्‍ड का प्रयोग डॉक्‍यूमेण्‍ट को क्‍लोज करने के लिए किया जाता है।

WORD OPTIONS : इस कमाण्‍ड का प्रयोग वर्ड डॉक्‍यूमेण्‍ट के सभी फीचरों को सेट करने के लिए किया जाता है।

EXIT WORD : इस कमाण्‍ड का प्रयोग वर्ड डॉक्‍यूमेण्‍ट से तुरन्‍त बाहर आने के लिए किया जाता है।

SAVE और SAVE AS में क्‍या अन्‍तर है ?

किसी भी डॉक्‍यूमेण्‍ट या फाइल को पहली बार SAVE या SAVE AS दोनों को प्रयोग करके सेव कर सकते हैं। पहले से सेव की गई फाइल को SAVE करने से वह फाइल उसी नाम से सेव होती है जबकि SAVE AS कमाण्‍ड से हम फाइल को अन्‍य किसी भी नाम से सेव कर सकते हैं।

मल्‍टीलेवल लिस्‍ट (Multilevel List)

वर्ड में आप सब लिस्‍ट या मल्‍टी लेबल लिस्‍ट भी बना सकते हैं। इस लिस्‍ट में विभिन्‍न लेवलों पर विभिन्‍न बुलट, नम्‍बर आदि प्रदर्शित होते हैं।

Microsoft Word Important Shortcut Keys

SAVE TREE, LEARN DIGITAL WITH KANTI DIGITAL

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad